YouTube vs TikTok | TikTok Rating Drops on Google Play Store | क्या है ये पूरा मामला? TikTok Ban

YouTube vs TikTok

YouTube vs TikTok | यूट्यूब-टिक टॉक के बीच क्यों छिड़ गई जंग? क्या है ये पूरा मामला?

दोस्तों बात अगर टिक टॉक की करें तो इसे हमेशा से ही देश के समझदार लोग बिल्कुल भी पसंद नहीं किया करते थे लेकिन अब तो इसे बैन करने की मांग देश के हर कोने में हो रही है इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि देश में अभी भी ऐसे लोग मौजूद हैं जो कि यह बिल्कुल भी नहीं चाहते कि मात्र एक ऐप की वजह से हमारे देश की संस्कृति और विचारों को ठेस पहुंचे और ऐसे में एक फेमस यूट्यूबर CarryMinati में जबसे टिक टॉक के ऊपर रोस्टिंग वीडियो बनाकर एक पोस्ट किया है उसके बाद से तो मानो लोगों की आंखें ही खुल गई हैं YouTube better than TikTok? वैसे अगर बात करें CarryMinati के उस वीडियो कि हम आपको बता दें कि भले ही CarryMinati ने अपनी उस वीडियो के अंदर अच्छे शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया था लेकिन दिल के अंदर गन्दगी रखकर तरह-तरह की वीडियो बनाने वाले लोगों के लिए थोड़े बहुत बुरे शब्द बोल देना अभी कोई बड़ी बात नहीं होगी लेकिन CarryMinati के इस वीडियो के बाद से एक टॉप कम्युनिटी के लोगों ने इस वीडियो का जमकर विरोध किया जिसका नतीजा हम और आप देख रहे हैं. CarryMinati latest video, gets over 26 million views in a day.

Youtube-Video

YouTube vs TikTok: कौन जीता, कौन हारा? | CarryMinati Deleted Video

क्योंकि CarryMinati कि यह वीडियो यूट्यूब से डिलीट हो गई है हालांकि CarryMinati का यह वीडियो भले ही डिलीट हो चुका हो लेकिन फिर भी इस वीडियो के जरिए एक्सपोर्ट की गई चीजें आम जनता के दिमाग में पूरी तरह से छा गई है और तभी तो आज भारत के ज्यादातर लोग टिक टॉक को बैन करवाने की चाह रखते हैं और इसका सबसे बड़ा उदहारण है टिक टॉक की घटती रेटिंग TikTok Rating Drops to 1.6 Stars क्योंकि जहां पहले टिक टॉक 4.6 रेटिंग के साथ गूगल प्ले स्टोर की शोभा बढ़ाएं हुए था वहीं अब इसकी रेटिंग धीरे धीरे 1.6 के पास पहुंच रही है और ऐसे में अगर इसी तरह से टिक टॉक को बैन करवाने की पीछे लोग पड़े रहे तो वह दिन दूर नहीं जब भारत में इसे ऑफिसियल बैन कर दिया जाएगा हालांकि इसके पीछे कई तरह के प्रोसेस शामिल होंगे लेकिन यह तो आपको पता ही है कि जनता जनार्दन की आगे भला कितनी चली है

YouTube vs TikTok | सोशल मीडिया पर कई यूजर्स टिक टॉक को भारत में बैन करने की भी मांग कर रहे हैं.

TikTok-Rating

हालांकि अभी भी बहुत सारे लोगों के मन में यह सवाल तो आया ही होगा की टिक टॉक को ही क्यों बैन करना जबकि इसी तरह के बहुत सारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भी मौजूद हैं तो इसका जवाब यह है कि इस तरह के वीडियो को बनाने में सबसे पहले टिक टॉक ही मार्केट में आया था और फिर उसके बाद से सारे प्लेटफॉर्म सा है और फिर बाकी सभी को ज्यादातर लोग इस्तेमाल करते हैं और इसीलिए अगर इतना ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला ऐप बंद हो जाएगा तो फिर बाकी इसी तरह के प्लेटफार्म भी इससे सबक सीख लेंगे और फिर उसके बाद से वह या तो अपने सभी थर्ड ग्रेड कंटेंट को हटा देंगे या फिर खुद-ब-खुद इस फील्ड से ही उतर जाएंगे पर अब जनता भी यह बात बहुत ही अच्छे से समझ गई है इन चीजों को तभी पॉसिबल किया जा सकता है जब टिक टॉक को बैन किया जाए क्योंकि अगर बात की जाए टिक टॉक पर बनाए जाने वाले कंटेंट की तो बेशक इसमें बहुत सारे अच्छे कंटेंस भी मौजूद हैं लेकिन उसको अच्छे कंटेंट मात्र 5 से 10 परसेंट ही आसपास हैं और बाकी सारा कंटेंट फिजूल का है जो कि एक अलग तरह की ही सोसाइटी को बिल्ड करने में लगा हुआ है जिसमें क्या गर्म सबसे पहले बात करें तो अभी कुछ दिनों पहले ही टिक टॉक के जरिए एसिड अटैक को प्रमोट किया गया था जहां पर एक लड़के ने लड़की पर गुस्सा होकर एसिड फेंक दिया और यह पहली बार नहीं था जब इस तरह की चीजें इस प्लेटफार्म पर हुई बल्कि इससे पहले भी ऐसी फिजूल की चीजों को टिक टॉक ने प्रमोट किया है

YouTube vs Tik Tok Controversy का कब होगा The End? CarryMinati, TikTok Rating, TikTok Ban?

और दोस्तों वहीं अगर हम बात करें कोरोनावायरस (COVID-19) की तो इसलिए आज पूरी दुनिया बेहाल है और हम सभी अपने अपने घरों में रहने को मजबूर हैं और दोस्तों अगर देखा जाए तो सिर्फ भारत में ही 118000 से भी ज्यादा कोरोनावायरस पॉजिटिव कैसेस सामने आ चुके हैं और ऐसे में कुछ दिनों पहले ही टिक टॉक के जरिए कुछ लोगों के द्वारा यह बात फैलाई जा रही थी की कोरोना वायरस से डरने की कोई भी जरूरत नहीं है बल्कि उनका गॉड उन्हें इन सभी चीजों से बचा लेगा अब आप खुद ही सोच लीजिए इस तरह की बेफिजूल बातें अगर टिक टॉक जैसे बड़े प्लेटफार्म पर की जाएगी तो लोगों पर इसका क्या असर पड़ेगा और दोस्तों सिर्फ इतना ही नहीं हम लोग अपने देश में जात-पात रंग रूप का भेद हटाने की कोशिश क्यों ना कर रहे हो लेकिन टिक टॉक के जरिए तो अभी भी कलर डिस्क्रिमिनेशन का खेल चल रहा है और दोस्तों और तो और टिक टॉक का सिलसिला यहीं पर खत्म नहीं होता क्योंकि इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले लोग 13 से 18 साल के यंगस्टर है

और दोस्तों इन्हें Science Technology जैसी फील्ड में आगे बढ़कर अपने देश का नाम रोशन करना चाहिए वही उसका उल्टा और छोटी सी उम्र में ही सोशल मीडिया पर ऐसे वीडियो बनने के चक्कर में अपना पूरा पूरा दिन ऐसी चीजों को करने में लगा देते हैं क्योंकि ना उनकी दिमाग का विकास करेगी और ना ही उन्हें सफल बना पाएगी और दोस्तों ये ही नहीं और कई कारणों की वजह से हमारे देश की जनता टिक टॉक को बंद कराने में लगी हुई है वैसे यह पहली बार नहीं है जब टिक टॉक को बंद करवाने की कोशिश जारी है क्योंकि आज से करीब 1 साल पहले 3 अप्रैल 2019 को भी टिकटोक बैन करने की अपील की गई थी और फिर 17 तारीख को इसे कुछ समय के लिए बंद भी कर दिया गया था लेकिन बाद में एक मीटिंग हुई जिसके बाद फिर से कि वेट कर दिया क्या और सिर्फ हमारे देश भारत में ही नहीं बल्कि 3 जुलाई 2018 को एक टॉप के अंदर पॉर्नोग्राफी जैसे कंटेंट पाए जाने की वजह से इंडोनेशिया में भी बंद कर दिया गया था लेकिन 1 हफ्ते के अंदर ही सारे पुराने वीडियोस डिलीट करवाने के बाद वापस फिर से प्ले स्टोर पर डाल दिया गया और दोस्तों अमेरिका में भी टिक टॉक पर बच्चों का डाटा चुराने का आरोप लगा इस वजह से उसे बंद तो नहीं किया गया लेकिन 5.7 मिलियन डॉलर का जुर्माना जरूर लगाया गया और टिक टॉक ने भी जुर्माने को बड़ी आसानी से चुका भी दिया था

YouTube Rating

और दोस्तों मिलियंस में फॉरवर्ड लेकर जहां बहुत सारे लोग एक तरफ मॉडर्न कल्चर और वूमेन रेस्पेक्ट को प्रमोट करने का ढोंग रचते हैं वहीं दूसरी तरफ तरह-तरह के वीडियो बनाकर अपनी नासमझी का सबूत वो खुद ही देते हैं दोस्त लोगों की आंखें खुल गई हैं और इसी वजह से अपनी तरफ से ज्यादा कुछ ना कर पाने के बावजूद टिक टॉक एप को ही प्ले स्टोर पर 1.6 रेटिंग देके लोग अपना दिल बहला आए हुए हैं और शायद यह सब कुछ संभव हो पाया है CarryMinati कि उस वीडियो की वजह से जो की इस वक्त यूट्यूब पर भी नहीं है वरना वीडियो पूरी दुनिया की सबसे ज्यादा देखि जाने वाली और लाइक की जाने वाली वीडियो बन कर सभी रिकॉर्ड तोड़ चुकी होती बाकी दोस्तों आपका टिक टॉक को बंद करने के बारे में क्या ख्याल है?

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *